बुक यानी की किताब या पुस्तक जो विभिन्न कागज के पृष्ठों की एक श्रृंखला होती है और कुछ हद तक यह भारी भी होती हैं। हम सभी ने अपने जीवन में पुस्तक का अध्ययन किया है क्या आपको पता है कि हमारे बढ़ने वाली पुस्तके हमें इंटरनेट के जरिए फोन पर भी उपलब्ध है?

अब आप सोच रहे होंगे फोन पर किताब कैसे उपलब्ध होगी ? और ये कैसे संभव है? तो क्या आपने कभी E-Book का नाम सुना है? यदि नही तो नीचे लिखी इस पोस्ट को अवश्य पढ़ें-

E-Book से जुड़ी समस्त जानकारी

E बुक क्या है

डिजिटल रूप में उपलब्ध पुस्तक को E बुक कहा जाता है। जो बिना कागज के बनी हैं, और मोबाइल या कंप्यूटर जैसे अनेक डिजिटल यंत्रों पर आप इसका अध्ययन भी कर सकते हैं।

“अर्थात् हम कह सकते हैं की डिजिटल रूप से उपलब्ध इलेक्ट्रानिक पुस्तक को ही E-Book कहा जाता है”

Sanwal Ji

यह पुस्तकें इंटरनेंट के माध्यम से ही छपती हैं और इंटरनेट के माध्यम से ही इन्हें बांटा भी जा सकता है। इन पुस्तकों को कागज से नही बनाया जाता तो आपके मन में ये प्रश्न जरूर उठा होगा, की यदि पुस्तकें कागजों से नहीं बनी तो यह तो उसमे लिखी इतने सारी बातें किस में सहेजी गई हैं?

E बुक का इस्तेमाल कैसे करें

तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह पुस्तक कई सारी स्लाइड्स के समूह में आपको मिलेंगी जिन्हे की पी० डी०एफ कहा जाता है। जिस प्रकार एक पुस्तक कागज के ढेर सारे पन्नो का एक समूह है वैसे ही E बुक पी०डी० एफ द्वारा बनी है।

कंप्यूटर द्वारा एकत्रित की गई विभिन्न सामग्री को सॉफ्टवेयर के द्वारा E बुक में परिवर्तित किया जाता है, छपी हुई समस्त जानकारी को स्कैनर के द्वारा डिजिटल रूप में बदला गया है।

E बुक को पढ़ने हेतु उपलब्ध कुछ हार्डवेयर उपकरण जिनमे अमेजन.कॉम का किण्डल तथा “ऍप्पल इंक” का आइपैड शामिल है।

E बुक को पढ़ने के लिए सॉफ्टवेयर की आवश्यकता होती है इसके लिए 2 प्रसिद्ध पाठक जैसे ऍडॉब रीडर तथा फॉक्सिट रीडर शामिल हैं।

E बुक क्यों बेहतर है?

आज के इस समय में लोग ज्यादा काम नहीं करना चाहते यानी की वह सरकते से ही सब काम करने को ही बढ़ावा देते हैं, तो यह भी स्पष्ट है की अब पैन और कॉपी कौन प्रयोग में लाना चाहेगा जब E बुक की सुविधा है तो। 

इसका एक मात्र कारण यह भी है की अब व्यक्ति अपने प्रश्नों का हल ढूंढ़ने के लिए इंटरनेट का उपयोग करता है, जबकि पहले के लोग जो की किसी सवाल का जवाब न मिलने पर किताबों की दुकान में जाकर उस विषय पर आधारित किताब लेकर आते थे। आजकल सभी लेखक अपनी पुस्तकों को E बुक पर ही लॉन्च कर रहे हैं।

  • इसके अतिरिक्त E बुक में फोटो या फिर वीडियो या फिर फोटो भी लगाई जा सकती है, जिससे कहानी पढ़ने में रुचि बढ़ेगी और सरल रूप से समझ में भी आएगा।
  • E बुक को खरीदने के लिए आपको बाजार नहीं जाना पड़ेगा।
  • E बुक एक चलती फिरती लाइब्रेरी है जो सामान्य पुस्तक की आवश्यकता पूरी करती है।
ई-बुक / E-Book क्या है ? इसके उपयोग और लाभ। इसको कैसे बनायें
ई-बुक / E-Book क्या है ? इसके उपयोग और लाभ। इसको कैसे बनायें

E बुक के कारण होने वाली हानियां या समस्या 

E बुक इलेक्ट्रानिक है इसे चलाने के लिए यंत्रों की आवश्यकता अवश्य होती है तथा साथ ही साथ आपके मोबाइल में चार्ज होना चाहिए इंटरनेट की स्पीड अच्छी होनी चाहिए। आपके फोन में डाटा होना चाहिए।

बिना इंटरनेट कनेक्शन के ना तो हम इसे लिख सकते हैं और ना ही पढ़ सकते हैं। और सबसे जरूरी बात आपके पास फोन या कंप्यूटर में से एक चीज होना जरूरी है।

कैसे बनाएं E-Book?

E-Book बनाने के लिए आपके फोन में माइक्रोसॉफ्ट वर्ड नामक सॉफ्टवेयर का होना अनिवार्य है।

  1. सबसे पहले आपको अपने डिवाइस में एमएस वर्ड खोलना होगा।
  2. उसके बाद अपने द्वारा लिखे जाने वाले विषय का शीर्षक (title) दें।
  3. जरूरी नहीं है की आप टाइपिंग द्वारा ही लिखें आप वॉइस टाइप के जरिए भी इसे लिख सकते हैं।
  4. जब आपका कार्य (लेखन) पूरा हो जाए तो इसे पी०डी०एफ फाइल में सेव कर लें, उसके बाद क्लिक सेव कर लें।
  5. इन सभी क्रियाओं द्वारा आपकी E बुक तैयार हो जाएगी।

E-Book को हमारी भाषा में इलेक्ट्रॉनिक किताब भी बोल सकते हैं। इसका आपको भार नहीं उठाना पड़ेगा और ना ही इसके लिए बैग की जरूरत होती है। अब लोग डिजिटल रूप से सभी कार्य करना अधिक पसंद करते हैं, स्मार्ट वर्क का प्रचलन आजकल जोर शोर से चल रहा है।

ऐसे में अधिकतर लोग की बुक का इस्तेमाल करते हैं जिससे कि उनकी पुस्तक अध्ययन इच्छा पूरी हो जाती है और उनको भार भी नहीं उठाना पड़ता।

हमारी ओर से कुछ विचार E-Book के लिए.

आप पुस्तक अध्ययन करने के शौकीन है और आपके पास पैसे उपलब्ध नहीं है तो आप अपने शौक बिना पैसों के भी पूरा कर सकते हैं बुक के रूप में, दोस्तों E बुक का एक फायदा यह भी है कि आप इसे जब चाहे जहां चाहे पढ़ सकते हैं।

और यही नहीं इसके द्वारा आप अपने पैसे बचा सकते हैं जिस प्रकार सामान्य पुस्तक के लिए आपको अधिक पैसे खर्च करने पड़ते हैं जैसे कि उसके प्रिंटिंग का खर्चा को लाने के लिए दे दिया जाने वाला भाड़ा या फिर किराया सभी से आप बच सकते हैं

और यह बुक आप स्वयं अपने घर बैठे- बैठे बना सकते हैं इसमें आपको ना ही प्रिंटर की आवश्यकता होगी और ना ही एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए किसी संसाधन की आवश्यकता होगी, और आप कागज और शाही के खर्चे देने से भी बच जाएंगे।

E बुक क्यों बेहतर है?

E बुक एक चलती फिरती लाइब्रेरी है जो सामान्य पुस्तक की आवश्यकता पूरी करती है।

E-Book कैसे बनाएं ?

E-Book बनाने के लिए आपके फोन में माइक्रोसॉफ्ट वर्ड नामक सॉफ्टवेयर का होना अनिवार्य है।

Avatar of Jeet

हमारी लिखी हुई पोस्ट को देखने के लिए आपका धन्यवाद।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *